2021 में Bank Se Loan Kaise Lete Hai? – बैंक से लोन लेने की पूरी प्रोसेस

By | जुलाई 11, 2021
Bank Se Loan Kaise Lete Hai - बैंक से लोन लेने की पूरी प्रोसेस

नमस्कार दोस्तों, क्या आप भी बैंक से लोन लेना चाहते है साथ ही क्या आप भी जानना चाहते है की Bank se loan kaise lete hai

अगर आपको भी नहीं पता है की बैंक से लोन लेने की प्रोसेस क्या है और बैंक लोन कैसे देती है तो मैं आपके लिए ये पोस्ट लेके आया हूँ।

इस पोस्ट में मैं आपको बैंक से लोन लेने की हर छोटी-छोटी चीजे समझाऊंगा साथ ही आपको बताऊंगा भी की आप बैंक से लोन कैसे ले सकते है।

तो दोस्तों मैं आपको इतना ही कहूंगा की आप पोस्ट को पूरा पढ़िए और पोस्ट के अंत तक आपको हर एक चीज समझ में आ जाएगी।


Bank Loan मंजूर कब होता है?

दोस्तों अगर आप जानना चाहते है की बैंक लोन को कब मंजूर करता है तो मैं आपको बता दूँ की बैंक लोन को 2 शर्तो पर मंजूर करता है। मैं आपको दो शर्ते भी बता देता हूँ –

1. Check Savings

दोस्तों जब भी आप बैंक के पास लोन लेने के लिए जाते हो तो बैंक सबसे पहले आपकी सेविंग्स को देखती है।

बैंक देखती है की आप हर महीने सैलरी के कितने पैसे जमा करके रखते है इसलिए दोस्तों मैं आपसे कहना चाहूंगा की आप पहले 4-5 महीने तक थोड़े पैसे जमा करके रखिये और उसके बाद बैंक लोन लेने के लिए जाइये।

आपको बैंक में बताना पड़ेगा की आप महीने के 30-40% पैसे सैलरी में से आपके पास जमा करके रखते है तभी आपका लोन मंजूर होगा।

Bank Se Loan Kaise Lete Hai? - बैंक से लोन लेने की पूरी प्रोसेस

2. Check Annual Income

मैं आपको बता दूँ की बैंक लोन देने से पहले आपकी Annual Income (साल की कुल कमाई) भी देखती है। अगर आपकी साल की कमाई 2 लाख है तो बहुत कम चांस है की बैंक आपको 100% loan दे क्युकी ऐसे समय पर बैंक 50% से 75% तक लोन देती है।


ये भी पढ़े:- स्टूडेंट के लिए पैसे कमाने के 10 तरीके


बैंक लोन अस्वीकार क्यों होते है?

मैं आपको बता दूँ कि बहुत लोग बैंक से लोन लेने के लिए सैलरी से जमा किये हुए पैसे भी बता देते है साथ ही उनकी साल की कमाई भी बहुत ज्यादा होती है फिर भी उनका बैंक लोन अस्वीकार हो जाता है और इसका कारण केवल दो चीज होती है –

1. Due Previous Loans

दोस्तों अगर आपने पहले का लिया हुआ लोन बैंक में नहीं चुकाया होगा तो उसके कारण भी बैंक आपको लोन नहीं देगी।

साथ ही अगर आपने बैंक लोन को आधा ही भरा होगा तो उस वजह से भी आपको बैंक द्वारा दूसरा लोन नहीं दिया जायेगा और बैंक आपके लोन को अस्वीकार कर देगी।

Bank Se Loan Kaise Lete Hai? - बैंक से लोन लेने की पूरी प्रोसेस

2. EMI

दोस्तों अगर आपने EMI पर कोई भी चीज खरीद रखी होगी तो उसकी वजह से भी आपका लोन अस्वीकार हो जायेगा।

यहाँ पर लोन अस्वीकार होने का एक कारण ये भी है की बैंक आपकी 30% savings को EMI में जोड़ देती है और जब आपकी EMI कम्पलीट हो जाती है तो आपका लोन भी स्वीकार हो जाता है।


जरूर पढ़ें:- Moj App Par 50k Followers Kaise Badhaye


बैंक लोन कितने प्रकार के होते है?

मैं आपको बता दूँ की बैंक के टर्म लोन तीन प्रकार के होते है – Short Term Loans, Medium Term Loans, और Long Term loans और मैं आपको बता दूँ की बैंक भी हमे इसी बेसिस पर लोन देते है।

तो चलिए मैं आपको ये भी बता देता हूँ की हमे बैंक कितने प्रकार के लोन देती है।

Bank Se Loan Kaise Lete Hai? - बैंक से लोन लेने की पूरी प्रोसेस

1. Personal Loan

पर्सनल लोन को ज्यादातर हर इंसान खुदकी जरुरत के लिए ही लेता है। पर्सनल लोन के लिए हर बैंक की ब्याजदर तय होती है और मैं आपको एक और चीज बता दूँ की सभी लोन्स के मुकाबले पर्सनल लोन की ब्याजदर हमेशा ज्यादा रहती है।

पर्सनल लोन को देते समय बैंक आपसे केवल आपकी सैलरी के बारे में पूछते है और आपको लोन दे देते है। पर्सनल लोन आपको बैंक द्वारा पांच साल तक मिल सकता है

2. Gold Loan

गोल्ड लोन लेने के लिए आपको केवल बैंक लॉकर में गोल्ड रखना पड़ता है और आपके गोल्ड की क्वालिटी और मार्किट प्राइस के हिसाब से बैंक आपको लोन दे देती है।

मैं आपको एक और चीज बता दूँ की बैंक आपको गोल्ड की कीमत 80% तक का लोन देते है। वैसे तो गोल्ड लोन को इमरजेंसी के समय में लिया जाता है और इस लोन पर जो ब्याजदर लिया जाता है वो पर्सनल लोन के मुकाबले बहुत कम रहता है।

3. Security Loan

इस लोन में बैंक आपके सिक्योरिटी पेपर को रखता है और आपको लोन देता है।

लेकिन बहुत लोगों को नहीं पता होगा की सिक्योरिटी पेपर क्या रहते है तो मैं आपको बता दूँ की अगर आपने पहले से ही share market, mutual funds में पैसे इन्वेस्ट रखे होंगे तो आपको पेपर्स दिए जाते है और वही सिक्योरिटी पेपर कहलाते है।


ये पढ़िए:- Share Market Kya Hai और Share Market Se Paise Kaise Kamaye


लेकिन मैं आपको एक चीज बता दूँ की अगर आप लोन चुकाने में असमर्थ हो जाते है तो बैंक आपके सभी सिक्योरिटी पेपर को ज़प्त कर लेता है और बाजार में बेच देता है।

अगर आप सिक्योरिटी पेपर को बैंक में गिरहवी रखते है तो आपको बैंक ओवरड्राफ्ट की फैसिलिटी भी प्रदान करता है और ओवरड्राफ्ट का मतलब रहता है की अगर आपके बैंक अकाउंट में जीरो बैलेंस है तो भी आप जरुरत के हिसाब से पैसे निकाल सकते है।

4. Property Loan

इस लोन को लेने के लिए आपको आपकी प्रॉपर्टी के कागज़ बैंक के पास गिरह्वी रखना पड़ता है। इस लोन को आप 15 साल के लिए ले सकते है और इस लोन में आपको आपकी प्रॉपर्टी की कीमत के हिसाब से 40-50% तक लोन मिल जाता है।

5. Home Loan

अगर आप घर खरीदने के लिए बैंक से लोन लेते है तो वो लोन होम लोन कहलाता है। मैं आपको बता दूँ की अगर आप घर बनाने की कीमत, होम रजिस्ट्रेशन, और स्टाम्प ड्यूटी आदि चीजों को जोड़कर भी बैंक से लोन लेते है तो आपको होम लोन मिल जाता है।

साथ ही मैं आपको ये भी बता दूँ की बैंक आपके घर बनाने के खर्चे की कुल राशि को जोड़कर आपको 70-80% तक लोन दे सकती है।

जब आप बैंक से होम लोन लेते है तो आपको बियाज के साथ बैंक को कुछ फीस भी देनी पड़ती है जैसे की administrative charges, processing fees, legal fees, आदि।

6. Education Loan

अगर आप एक टॉपर स्टूडेंट है या एक मेरिट स्टूडेंट है और स्कूल के बाद भी एजुकेशन प्राप्त करना चाहते है तो आप बैंक से एजुकेशन लोन ले सकते है।

आज के समय में बहुत से स्टूडेंट है जो की बड़े यूनिवर्सिटी में पढ़ना चाहते है लेकिन पैसे की तंगी की वजह से वे पढ़ नहीं पाते है तो उनको ये लोन आसानी से मिल सकता है।

इस लोन को देने से पहले ही बैंक इस लोन की रिपेमेंट भी बता देता है। मैं आपको एक चीज और बता दूँ की ये लोन उन्ही स्टूडेंट को दिया जाता है जो इस लोन को वापस लौटाने की क्षमता रखते है।

इस लोन को देने से पहले बैंक ये चीज भी देखती है की स्टूडेंट के पेरेंट्स की इनकम क्या है और जो यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट जाना चाहता है वहा की पढ़ाई कैसी है, वह से पढ़कर स्टूडेंट कमाएंगे या नहीं, और वह पर से स्टूडेंट जोब के लिए सेलेक्ट होते है या नहीं, आदि।

पढ़ाई ख़तम होने के बाद स्टूडेंट को इस लोन के पैसे बैंक को लौटाने पड़ते है और इस लोन को लेने के लिए एक गारंटर की भी जरुरत पढ़ती है जो की स्टूडेंट के बारे में बता सकते। इस लोन में बैंक द्वारा इंटरेस्ट भी चार्ज किया जाता है।


ये पढ़ लीजिए:- Aadhaar Card Ko Pan Card se Kaise Link Kare?


7. Vehicle Loan

अगर आप कार खरीदना चाहते है और आपके पास पैसे नहीं है तो आप बैंक से इस  चीज के लिए भी लोन ले सकते है जिससे वाहन लोन भी कहा जाता है।

इस लोन को fixed-interest rate और floating-interest rate पर दिया जाता है और जब तक आप बैंक का पूरा लोन नहीं भर देते है तब तक वाहन की मालिक बैंक रहती है।

इस लोन को लेने के लिए आपको बैंक में सैलरी रिसिप्ट और 2-3 महीने का income tax रिसिप्ट भी जमा करना पड़ता है साथ ही आपको आईडी प्रूफ भी बैंक में जमा करना पड़ता है।

मैं आपको एक और चीज बता दूँ की नई वाहन और पुराने वाहन दोनों पर इंटरेस्ट रेट अलग रहता है।

8. Corporate Loan

मैं आपको बता दूँ की कॉरपोरेट लोन बड़े-बड़े बिजनेसमैन को दिया जाता है और अभी के नियम के अनुसार बैंक उनकी कोर कैपिटल का 55% तक किसी भी  बड़ी कंपनी को लोन दे सकती है।

लेकिन कुछ डिफ़ॉल्ट केसेस के होने की वजह से RBI  ने ये जारी किया है की बैंक उनके कोर कैपिटल का 25% तक ही कंपनी को दे सकते है।


बैंक लोन स्वीकार कब होता है?

जब आप बैंक में आपकी सेविंग्स और साल की सैलरी सही-सही बता देते है तो आपका बैंक लोन मंजूर कर लिया जाता है। लेकिन इन चीजों के साथ आपको बैंक की पालिसी को भी फॉलो करना रहता है।

बैंक लोन अस्वीकार कब होता है?

जब आपका बैंक में पहला लोन चुकाना बाकी रहता है और आप दूसरा बैंक लोन लेने की कोशिश करते है तो आपका लोन अस्वीकार कर दिया जाता है। साथ ही अगर आपने EMI पर कुछ लिया होता है और EMI भरना बाकी रहता है तब भी आपका बैंक लोन अस्वीकार हो जाता है।

बैंक लोन कितने प्रकार के होते है?

1. Personal loan
2. Vehicle Loan
3. Security Loan
4. Gold Loan
5. Property Loan
6. Home Loan
7. Education Loan
8. Corporate Loan



Final Words

दोस्तों आज के पोस्ट में मैंने आपको बता दिया की आप कैसे बैंक से लोन ले सकते है और बैंक कितने प्रकार के लोन देती है।

साथ ही आप अगर बैंक से लोन लेना चाहते है तो आप बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर भी जाकर लोन के बारे में पता कर सकते है।

तो दोस्तों आज का पोस्ट यही समाप्त करते है और अगर आपको पोस्ट पसंद आया हो तो शेयर करना न भूले।